भारत में प्रथम

* प्रथम महिला अन्तरिक्ष यात्री: कल्पना चावला –  1 फरवरी 2003 को कोलंबिया अन्तरिक्ष यान हादसे का शिकार हुई कल्पना चावला भारत की प्रथम महिला थी जो अन्तरिक्ष में गई यह उनका द्वितीय मिशन था चावला हरियाणा के करनाल जिले की मूल निवासी थी।
* भारतीय स्टेट बैंक की प्रथम महिला अध्यक्ष:अरून्धती भट्टाचार्य   वर्ष 1977 में प्रोबेशनरी ऑफिसर के रूप में भारतीय स्टेट बैंक से जुड़ने वाली अरून्धती भट्टाचार्य का जन्म कोलकाता, वेस्ट बंगाल में हुआ था उन्हें 7 अक्टूबर 2013 को भारतीय स्टेट बैंक की अध्यक्षा नियुक्त किया गया।
* साहित्य अकादमी पुरस्कार से सम्मानित प्रथम महिला: अमृता प्रीतम – पंजाबी तथा हिन्दी साहित्य जगत में अपना योगदान देने वाली कवियित्री तथा लेखक अमृता प्रीतम को उनके योगदान के लिए वर्ष 1956 में साहित्य अकादमी पुरस्कार से सम्मानित किया गया तथा वे इस पुरस्कार से सम्मानित होने वाली प्रथम महिला बनी।
* भारत रत्न से विभूषित प्रथम महिला: इंदिरा गाँधी –  भारत की चौथी प्रधानमंत्री तथा प्रथम महिला प्रधानमंत्री रही इंदिरा गाँधी को वर्ष 1971 भारत रत्न से विभूषित किया गया भारत देश के इस सर्वोच्च सम्मान को पाने वाली प्रथम महिला इंदिरा गाँधी ही थी।
* स्वतंत्र भारत के प्रथम शिक्षा मंत्री: अबुल कलाम आजाद– 15 अगस्त 1947 को भारत की स्वतंत्रता के तुरंत बाद ही अबुल कलाम आज़ाद ने भारत के शिक्षा मंत्री का पद संभाला तथा भारत के प्रथम शिक्षा मंत्री बनने का गौरव प्राप्त किया 11 वर्ष की सेवा के बाद उन्होंने 2 फरवरी 1958 को पद त्याग किया मौलाना आजाद के नाम से प्रसिद्ध अबुल कलाम आजाद को “भारत रत्न” से भी सम्मानित किया जा चुका है।
* भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के प्रथम अध्यक्ष: डब्ल्यू. सी. बैनर्जी – भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस का पहला अधिवेशन वर्ष 1885 में बोम्बे में हुआ इस अधिवेशन की अध्यक्षता डब्ल्यू. सी. बैनर्जी (उमेश चन्द्र बैनर्जी) ने की थी इस के अतिरिक्त वे ब्रिटेन के “”हाउस ऑफ़ कॉमन्स” के लिए चुनाव लड़ने वाले प्रथम भारतीय भी थे हालांकि वे इसमें जीत हासिल नही कर पाए कांग्रेस के दूसरे अधिवेशन की अध्यक्षता दादाभाई नारौजी ने की यह अधिवेशन वर्ष 1886 में कोलकाता में हुआ था।
* भारत में प्रिंटिंग प्रेस का प्रचालन करने वाले प्रथम व्यक्ति: जेम्स हिक्की – को भारत की पत्रकारिता का पितामह माना जाता है इन्होने “बंगाल गज़ट” के नाम से भारत का पहला समाचार पात्र वर्ष 1780 में प्रकाशित किया था हालांकि यह समाचार पत्र मात्र दो वर्ष तक ही चल सका“बंगाल गज़ट” को “हिक्की’ज बंगाल गज़ट” के नाम से भी जाना जाता है।
* भारतीय ज्ञानपीठ पुरस्कार पाने वाले प्रथम भारतीय:जी. शंकर कुरूप – ज्ञानपीठ पुरस्कार भारतीय साहित्य में दिया जाने वाला सर्वोच्च पुरस्कार है जी. शकर कुरूप को 1965 में भारतीय ज्ञानपीठ पुरस्कार से सम्मानित किया गया इन्हें मलयालम भाषा के साहित्य में योगदान देने के लिए जाना जाता है।
* प्रथम फील्ड मार्शल: जनरल मानिक शॉ – पदम विभूषण, पदम भूषण तथा मिलिट्री क्रॉस पुरस्कार से सम्मानित मानिक शॉ प्रथम थल सेना अधिकारी हैं जिन्हें फाइव स्टार रैंक (फील्ड मार्शल) पर पदोन्नति मिली इन्हें सैम बहादुर के नाम से भी जाना जाता है इन्ही के (अध्यक्ष) नेतृत्व में भारतीय सेना ने वर्ष 1971 में हुए भारत-पाक युद्ध में विजय प्राप्त की थी।
* प्रथम वायुसेना अध्यक्ष: एयर मार्शल एस. मुख़र्जी – 5 मार्च 1911 को कोलकाता में जन्मे एस. मुख़र्जी ने अपने मह्त्वपूर्ण योगदान के चलते 1 अप्रैल 1954 को एयर मार्शल रैंक पर अपनी सेवा देनी प्राम्भ की थी।
* नौ सेना के प्रथम अध्यक्ष: वाईस एडमिरल आर. डी. कटारी (राम दास कटारी) पहले भारतीय थे जिन्होंने यह पद ग्रहण किय इन से पहले ब्रिटिश अधिकारी इस पद पर अपनी सेवाएं दे रहे थे अंतिम ब्रिटिश अधिकारी “वाईस एडमिरल सर स्टेफेन होप कार्लिल्ल”के बाद आर. डी. कटारी ने यह पद सम्भाला।
* भारत के प्रथम मुख्य न्यायधीश: हीरालाल जे. कानिया – 26 जनवरी 1950 की भारत के संविधान के लागू होते ही हीरालाल जे. कानिया प्रथम मुख्य न्यायाधीश नियुक्त हुए परन्तु एक वर्ष पश्चात 1951 में इनकी दफ्तर में ही मृत्यु हो गई इन के बाद इस पद पर एम. पतंजलि शास्त्री की नियुक्ति हुई।
* भारत के मंत्रिमंडल से इस्तीफा देने वाला प्रथम मंत्री:श्यामा प्रसाद मुख़र्जी – भारतीय जन संघ के जनक श्यामा प्रसाद मुख़र्जी ने 6 अप्रैल 1950 को अपना इस्तीफा दिया क्योंकि वे पंडित जवाहर लाल नेहरू के पाकिस्तान प्रधानमन्त्री को भेजे गए आमंत्रण पत्र के खिलाफ थे उस समय लियाकत अली खान पकिस्तान के प्रधानमन्त्री थे।
* प्रथम ह्रदय प्रत्यारोपणकर्ता सफल सर्जन: डॉ. पी. वेणुगोपाल – आंध्राप्रदेश में जन्मे डॉ. पी. वेणुगोपाल को भारत के प्रथम ह्रदय प्रत्यारोपणकर्ता सफल सर्जन के रूप में जाना जाता है इन्हें भारत सरकार ने वर्ष 1998 में पदम भूषण से सम्मानित किया था उन्होंने सफल ह्रदय प्रत्यारोपणकर्ता वर्ष 1994 में किया था।
* सयुंक्त राष्ट्र संघ में हिन्दी में भाषण देने वाले प्रथम भाषणकर्ता: अटल बिहारी वाजपेयी – भारत के 11 वें प्रधानमंत्री रह चुके अटल बिहारी वाजपेयी पहले भारतीय हैं जिन्होंने सयुंक्त राष्ट्र संघ में हिन्दी में भाषण दिया वर्ष 1977 में जब जनता पार्टी की जीत हुई उस समय मोरारजी देसाई प्रधानमंत्री बने तथा अटल बिहारी वाजपेयी विदेश मंत्री बने, विदेश मंत्री बनने के बाद जब अटल जी को जब 1979 में सयुंक्त राष्ट्र संघ में भाषण देने के लिए आमंत्रित किया गया तब उन्होंने हिन्दी में भाषण दे कर भारत का गौरव बढ़ाया।
* प्रथम महिला राज्यपाल: सरोजिनी नायडू – भारत की आज़ादी के लिए कार्य कर चुकी सरोजिनी नायडू को भारत के राज्य की प्रथम महिला राज्यपाल होने का गौरव प्राप्त है इस के अतिरिक्त वे वर्ष 1925 में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की द्वितीय महिला अध्यक्ष भी रही।
* प्रथम मुख्य महिला सूचना आयुक्त: दीपक संधु –  5 सितम्बर 2013 को दीपक संधु प्रथम महिला बनी जिन्हें भारत की मुख्य सूचना आयुक्त किया गया इनके बाद इस पद पर सुषमा सिंह को नियुक्त किया गया।
* प्रथम महिला आई. पी. एस.: किरण बेदी – वर्ष 1972 में “इंडियन पुलिस सर्विस” में नियुक्त होने वाली प्रथम महिला किरण बेदी थी वे वर्ष 2007 तक सेवा देने के बाद अपने पद से निवृत हुई वर्ष 1972 में ही इनका विवाह बृज बेदी से हुआ था अपने राजनितिक सफ़र में इन्होने भारतीय जनता पार्टी का समर्थन किया।
* भारतीय महिला बैंक की अध्यक्ष: उषा अनंत सुब्रमण्यम – वर्ष 2013 में शुरू हुए “भारतीय महिला बैंक” की प्रथम अध्यक्ष होने का गौरव उषा अनंत सुब्रमण्यम को प्राप्त है “एम्पोवेरिंग वीमेन, एम्पोवेरिंग इंडिया” नारे के साथ इस बैंक को महिला हित के लिए शुरू किया गया है इस के अतिरिक्त उषा अनंत सुब्रमण्यम पंजाब नेशनल बैंक की अध्यक्ष भी रह चुकी हैं।
* कांग्रेस की प्रथम महिला अध्यक्ष: एनी बेसेंट – वर्ष 1917 में एनी बेसेंट कांग्रेस की अध्यक्ष बनी इस पद पर कार्य करने वाली वे प्रथम महिला थी लन्दन में जन्मी एनी एक ब्रिटिश सामाजिक कार्यकर्ता थी जिन्होंने महिला अधिकार के लिए कार्य किए।
* प्रथम महिला लोक सभा अध्यक्ष: मीरा कुमार – वर्ष 2009 में लोक सभा की अध्यक्ष बनी मीरा कुमार, प्रथम महिला अध्यक्ष थी इन्होने यह पद सोमनाथ चटर्जी के बाद संभाला पांच वर्ष सेवा देने के बाद वर्ष 2014 में ये अपने कार्यभार से निवृत हुई तथा सुमित्रा महाजन को लोकसभा की नई अध्यक्ष नियुक्त किया गया।
* प्रथम विश्व सुन्दरी (मिस वर्ल्ड): रीता फारिया – वर्ष 1966 में विश्व सुंदरी खिताब से सम्मानित रीता फारिया भारत ही नहीं बल्कि समूचे एशिया में प्रथम महिला थी जिन्हें इस खिताब से सम्मानित किया गया पेशे से डॉक्टर रही रीता फारिया की शादी विश्व सुन्दरी का खिताब मिलने के 5 वर्ष पश्चात 1971 में डॉ. डेविड पोवेल से हुई।
* प्रथम ब्रह्माण्ड सुन्दरी (मिस यूनिवर्स): सुष्मिता सेन – हैदराबाद, तेलंगाना में जन्मी सुष्मिता सेन को वर्ष 1994 में ब्रह्माण्ड सुन्दरी के खिताब से सम्मानित किया गया तथा इसी के साथ उनके फिल्मी सफ़र की भी शुरूआत हुई उनकी पहली हिन्दी फ़िल्म “दस्तक” थी हालाँकि इस के बाद उन्होंने दक्षिण भारत की फ़िल्मों में भी काम किया।
* भारत के किसी राज्य की प्रथम महिला मुख्यमंत्री:सुचेता कृपलानी (उत्तर प्रदेश) – वर्ष 1963 में सुचेता कृपलानी उत्तर प्रदेश की मुख्यमंत्री बनी वह पहली महिला थी जो भारत के किसी राज्य की मुख्यमंत्री पद पर नियुक्त हुई इनसे पूर्व चन्द्र भानू गुप्ता इस पद पर अपनी सेवाएं दे रहे थे तथा कृपलानी के पांच वर्ष के कार्यकाल समाप्त होने के पश्चात वर्ष 1967 में चन्द्र भानू गुप्ता ही उत्तर प्रदेश के अगले मुख्यमंत्री बने।
* सर्वोच्च न्यायालय की प्रथम महिला न्यायाधीश:न्यायमूर्ति मीरा साहिब फातिमा बीवी – वर्ष 1989 में सर्वोच्च न्यायालय की न्यायाधीश बनी मीरा साहिब प्रथम महिला न्यायाधीश थी वे भारत ही नही बल्कि पूरे एशिया में प्रथम महिला थी।
* उच्च न्यायालय की प्रथम महिला न्यायाधीश:न्यायमूर्ति लीला सेठ (हिमाचल प्रदेश) – वर्ष 1991 में हिमाचल प्रदेश उच्च न्यायालय की न्यायाधीश रही लीला सेठ प्रथम महिला थी जो इस सम्मानीय पद पर नियुक्त हुई।
* प्रथम महिला कैबिनेट मंत्री: राजकुमारी अमृत कौर – भारत की स्वतंत्रता के बाद जवाहरलाल नहरू की पहली कबिनेट में राजकुमारी अमृत कौर को मंत्री बनाया गया वे भारत की प्रथम महिला बनी जिन्हें स्वास्थय मंत्री के पद पर नियुक्त किया गया।
* माउंट एवरेस्ट विजेता प्रथम महिला पर्वतारोही: बछेंद्री पाल – वर्ष 1984 में माउंट एवरेस्ट पर विजय प्राप्त करने वाली बछेंद्री पाल प्रथम भारतीय महिला पर्वतारोही है भारत के उत्तरांचल में जन्मी बछेंद्री पाल ने 30 वर्ष की आयु में यह कार्य संभव किया था।
* सातों महाद्वीपों के सर्वोच्च शिखरों पर चढ़ने वाली प्रथम महिला: प्रेमलता अग्रवाल – प्रथम भारतीय महिला है जो सातों महाद्वीपों के शिखर पर पहुंची इस के अतिरिक्त वे माउंट एवरेस्ट पर चढ़ने वाली सबसे वृद्ध महिला भी हैं इन्होने 48 वर्ष की उम्र में माउंट एवरेस्ट की चोटी पर विजय प्राप्त की थी।
* प्रथम महिला नोबल पुरस्कार विजेता: मदर टेरेसा – वर्ष 1979 में मदर टेरेसा को नोबल शान्ति पुरस्कार से सम्मानित किया गया वे प्रथम महिला थी जिन्हें इस पुरस्कार से नवाज़ा गया।
* भारत का प्रथम दूरदर्शन केंद्र: नई दिल्ली – 15 सितम्बर 1959 को दूरदर्शन की शुरूआत हुई इस का पहला केंद्र नई दिल्ली में स्थापित किया गया।
* दूरदर्शन का पहला धारावाहिक: हम लोग – हालांकि दूरदर्शन की शुरूआत 1959 में हो चुकी थी लेकिन इस पर लोगों के मनोरंजन के उदेश्य से पहला धारावाहिक 7 जुलाई 1984 को प्रसारित करना आरम्भ किया गया डेढ़ वर्ष तक चलने तथा 154 प्रकरणों के बाद “हम लोग” कार्यक्रम को 17 दिसम्बर 1985 को बंद कर दिया गया।
* सर्वप्रथम दूरदर्शन पर रंगीन कार्यक्रम का प्रसारण: 15 अगस्त 1982 – भारत के स्वतंत्रता दिवस पर 15 अगस्त 1982 को दूरदर्शन द्वारा रंगीन कार्यक्रमों का प्रसारण शुरू कर दिया गया इस के अंतर्गत पहला कार्यक्रम उस समय देश की प्रधानमंत्री रही इंदिरा गाँधी का “स्वतंत्रता दिवस भाषण” था।
* प्रथम फ़िल्म: राजा हरीशचन्द्र – सन 3 मई 1913 में बनी राजा हरिश्चंद्र को भारत की प्रथम फ़िल्म होने का गौरव प्राप्त है इस फ़िल्म के निर्माता दादा साहेब फाल्के थे।
* प्रथम बोलती फ़िल्म: आलम आरा – 14 मार्च 1931 को प्रदर्शित हुई फ़िल्म आलम आरा भारत की पहली बोलती फ़िल्म थी।
* प्रथम अभिनेत्री: दुर्गाबाई कामत – फ़िल्म जगत में जब फ़िल्मों की शुरूआत हुई तब पुरूष अभिनेता ही स्त्री रूप बना कर अभिनय करते थे दादा साहेब फाल्के ने सन 1913 अपनी दूसरी फ़िल्म “मोहिनी भस्मासुर” में दुर्गाबाई कामत को अभिनेत्री लिया।
* प्रथम रंगीन फ़िल्म: किसन कन्या – फ़िल्म जगत में मूक फ़िल्म के बाद बोलती फ़िल्म का निर्माण हो चुका था अगला पायदान था सिनेमा को रंगीन बनाना इसलिए निर्माता अर्देशिर ईरानी ने इस मांग को समझते हुएवर्ष 1937 में पहली रंगीन फ़िल्म “किसन कन्या” का निर्माण किया 137 मिनट की यह फ़िल्म भारत की पहली स्वदेश निर्मित रंगीन फ़िल्म बनी।
* प्रथम राष्ट्रीय फ़िल्म पुरस्कार: (10 अक्टूबर 1954) – प्रथम राष्ट्रीय फ़िल्म पुरस्कार के आबंटन की शुरूआत वर्ष 1954 में की गई इस का पर्मुख उदेश्य फ़िल्म जगत को बढ़ावा देना था यह पुरस्कार श्रेष्ठ निर्देशक, अभिनेता, अभिनेत्री, संगीतकार आदि को दिया जाता है।
* भारत की ओर से ऑस्कर के लिए भेजी गई प्रथम फ़िल्म: मदर इण्डिया – 25 अक्टूबर 1957 को भारत में प्रदर्शित हुई फ़िल्म “मदर इण्डिया” पहली ऐसी फ़िल्म बनी जो ऑस्कर के लिए नामांकित हुई इस फ़िल्म को बेस्ट फॉरेन लैंग्वेज फ़िल्म के लिए ऑस्कर नामांकन मिला था।
* प्रथम सिनेमास्कोप फ़िल्म: कागज़ के फूल – गुरू दत्त द्वारा निर्देशित फ़िल्म “कागज़ के फूल” भारत की पहली सिनेमास्कोप फ़िल्म थी 148 मिनट लंबी इस फ़िल्म को 2 जनवरी 1959 को प्रदर्शित किया गया था।
* प्रथम दादासाहेब फाल्के पुरस्कार विजेता: देविका रानी – एक दशक तक फ़िल्म जगत में देविका रानी चौधरी ने अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया वर्ष 1930 से वर्ष 1940 का दशक देविका रानी के फ़िल्मी जीवन का शानदार हिस्सा रहा।
* प्रथम ऑस्कर विजेता: भानु अथैय्या (बेस्ट कास्टयूम डिज़ाइनर) – भानु अथैय्या को 1982 में प्रदर्शित हुई फ़िल्म “गांधी” के लिए ऑस्कर से सम्मानित किया गया तथा यह फ़िल्म उनके जीवन की सबसे बड़ी उपलब्धि साबित हुई भारत, यू.के. तथा यू.एस. में प्रदर्शित हुई “गांधी”फ़िल्म अंग्रेजी भाषा में थी तथा जॉन ब्रिले द्वारा लिखी गई थी।
* प्रथम ऑस्कर फॉर लाइफ टाइम अचीवमेंट अवार्ड विजेता: सत्यजीत रे – अपने जीवनकाल में लगभग 36 से ज्यादा फ़िल्मों का निर्देशन करने वाले सत्यजीत रे प्रथम भारतीय थे जिन्हें (ऑस्कर फॉर लाइफ टाइम अचीवमेंट अवार्ड) से सम्मानित किया गया सत्यजीत रे की पहली फ़िल्म“पथेर पांचाली” थी तथा पहली रंगीन फ़िल्म “कांचनजंघा” थी।
* प्रथम फ़िल्म निर्माता जिन्हें भारत रत्न से सम्मानित किया गया:सत्यजीत रे – 2 मई 1921 को कोलकाता में जन्मे सत्यजीत रे को वर्ष 1992 में भारत रत्न अवार्ड से सम्मानित किया गया फ़िल्मी जगत में सत्यजीत रे का बहुत ही महत्वपूर्ण योगदान रहा है।
* प्रथम ब्लैक एंड वाइट फ़िल्म जिसे डिज़िटल तकनीक द्वारा रंगीन किया गया: मुगले आज़म जिसका हिन्दी में अर्थ होता है “मुगलों का बादशाह” फ़िल्म को 5 अगस्त 1960 को हिन्दी तथा उर्दू भाषा में प्रदर्शित किया गया था इस फ़िल्म का निर्देशन के. आसिफ ने किया था तथा पृथ्वीराज कपूर ने बादशाह अकबर की भूमिका अदा की थी मुगले आज़म को डिज़िटल तकनीक द्वारा रंगीन बनाकर नवम्बर 2004 में पुन: प्रदर्शित किया गया।
* प्रथम हिन्दी फ़िल्म जो यू.एस.ए. में प्रदर्शित तथा स्क्रीनड हुई: लगे रहो मुन्ना भाई – महात्मा गांधी के विचारों से प्रेरित फ़िल्म “लगे रहो मुन्ना भाई” इसके प्रथम भाग “मुन्ना भाई एम.बी.बी.एस.” का सीक्वल था 144 मिनट लंबी इस फ़िल्म को 1 सितम्बर 2006 को प्रदर्शित किया गया था गांधीगिरी को प्रसिद्ध करते हुए इस फ़िल्म ने भारी सफलता प्राप्त की थी।
* प्रथम ऑस्कर विजेता संगीत निर्देशक तथा डबल ऑस्कर विजेता: ए. आर. रहमान – संगीत के क्षेत्र में सुप्रसिद्ध गायक ए. आर. रहमान को वर्ष 2009 में ऑस्कर से सम्मानित किया गया यह सम्मान उन्हें भारतीय-ब्रिटिश फ़िल्म “स्लमडॉग मिलियनेयर” जो की हिन्दी तथा अंग्रेजी में प्रदर्शित हुई थी,के संगीत में योगदान के लिए दिया गया था।
* प्रथम गवर्नर जनरल: लार्ड विलियम बैंटिक – वर्ष 1828 से 1835 तक भारत के गवर्नर जनरल रहे लार्ड विलियम बैंटिक को भारत का प्रथम गवर्नर जनरल होने का गौरव प्राप्त है 1947 में भारत की स्वतंत्रता के कुछ वर्ष बाद ही इस पद को समाप्त कर दिया गया था।
* प्रथम वायसराय (अंतिम गवर्नर जनरल): लार्ड केनिंग – लार्ड केनिंग को वर्ष 1858 में भारत का प्रथम वायसराय बनाया गया क्योंकि इसी वर्ष गवर्नर जनरल के पद को एक्ट 1858 के अंतर्गत“वायसराय तथा गवर्नर जनरल ऑफ़ इंडिया” कर दिया गया था।
* स्वतंत्र भारत का प्रथम तथा अंतिम गवर्नर जनरल: सी. राजगोपालाचारी – भारत की स्वतंत्रता के पश्चात 21 जून 1948 को सी. राजगोपालाचारी ने गवर्नर जनरल पद ग्रहण कर कार्यभार सम्भाला तथा दो वर्ष तक इस पद पर अपनी सेवाएं दी राजगोपालाचारी स्वतंत्र भारत के प्रथम तथा अंतिम गवर्नर जनरल बने 26 जनवरी 1950 को गवर्नर जनरल का पद समाप्त कर दिया गया था।
* आई. सी. एस. में सफल होने वाला प्रथम भारतीय: सत्येन्द्र नाथ टैगोर – वर्ष 1862 में सत्येन्द्र नाथ टैगोर तथा इनके मित्र मनमोहन घोष ने परीक्षा में भाग लिया घोष तो परीक्षा में उतीर्ण ना हो सके परन्तु सत्येन्द्र परीक्षा उतीर्ण कर और परीक्षण प्राप्त कर नवम्बर 1864 में भारत लौटे तथा उन्हें बोम्बे प्रेसीडेंसी में नियुक्ति मिली।
* नोबल पुरस्कार से सम्मानित प्रथम भारतीय: रवीन्द्र नाथ टैगोर – रवीन्द्र नाथ टैगोर जो कि रवीन्द्र नाथ ठाकुर के नाम से भी जाने जाते है नोबल पुरस्कार से सम्मानित प्रथम भारतीय हैं इन्हें साहित्य में योगदान के लिए वर्ष 1913 में नोबल पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।
* प्रथम नोबल पुरस्कार विजेता (चिकित्सा शास्त्र): हरगोबिन्द खुराना –  पंजाब में 9 जनवरी 1922 को जन्मे हरगोबिंद खुराना को चिकित्सा शास्त्र में प्रथम नोबल विजेता के रूप में जाना जाता है यह सम्मान इन्हें वर्ष 1968 में मिला था।
* प्रथम नोबल पुरस्कार विजेता वैज्ञानिक (भौतिकी): सी. वी. रमन –  वर्ष 1930 में सी. वी. रमन (चंद्रशेखर वेंकट रमन) को नोबल पुरस्कार से सम्मानित किया गया यह पुरस्कार उनके भौतिकी में योगदान के लिए दिया गया था इनके द्वारा किए गए महत्वपूर्ण अविष्कारों का नाम रमन के नाम पर ही “रमन प्रभाव” रखा गया वर्ष 1954 में इन्हें भारत रत्न से भी सम्मानित किया गया।
* स्वतंत्र भारत के प्रथम कमांडर इन चीफ: के. एम. करिअप्पा – भारत की स्वतंत्रता के पश्चात 16 जनवरी 1949 को के. एम. करिअप्पा को थल सेना का प्रथम कमांडर इन चीफ नियुक्त किया गया इन्होने इस पद पर चार वर्ष तक सेवा दी के. एम. करिअप्पा (कोडंडेरा मडप्पा करिअप्पा) ने द्वितीय विश्व युद्ध तथा भारत-पाक युद्ध 1947 में अपना योगदान दिया था।
* प्रथम परमवीर चक्र से सम्मानित व्यक्ति: मेजर सोमनाथ शर्मा – द्वितीय विश्व युद्ध तथा भारत पाक युद्ध 1947 में भाग लेने वाले मेजर सोमनाथ शर्मा को प्रथम परम वीर चक्र विजेता होने का गौरव प्राप्त है नवम्बर 1947 को मेजर जम्मू कश्मीर के एक गाँव बड़गाम में लड़ते हुए वीरगति को प्राप्त हुए थे।
* अर्थशास्त्र में नोबल पुरस्कार से सम्मानित प्रथम भारतीय: डॉ. अमर्त्य सेन – वर्ष 1998 में अमर्त्य सेन को उनके अर्थशास्त्र क्षेत्र में योगदान के लिए नोबल पुरस्कार से सम्मानित किया गया एक वर्ष बाद ही भारत सरकार ने भी अमर्त्य सेन को भारत रत्न (1999) से सम्मानित किया भारत मूल के अमर्त्य सेन ने नालंदा विश्वविद्यालय, हार्वड विश्वविद्यालय,यूनिवर्सिटी ऑफ़ कैंब्रिज जैसे विश्व प्रसिद्ध संस्थानों में अपनी सेवाएं दी।
* स्टालिन पुरस्कार से सम्मानित प्रथम भारतीय: सैफुद्दीन किचलू – सैफुद्दीन किचलू को स्टालिन शांति पुरस्कार से वर्ष 1952 में सम्मानित किया गया (ध्यान दें: वर्ष 1957 में स्टालिन पुरस्कार का नाम बदलकर “लेनिन पुरस्कार” कर दिया गया था, यह एक अंतराष्ट्रीय स्तर शान्ति पुरस्कार है) अमृतसर, पंजाब में जन्मे सैफुद्दीन किचलू एक आज़ादी के लिए लड़ने वाले क्रांतिकारी तथा राजनेता थे।
* भारत रत्न से सम्मानित प्रथम भारतीय: डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन – भारत के प्रथम उपराष्ट्रपति तथा द्वितीय राष्ट्रपति डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन को वर्ष 1954 में भारत को सर्वोतम पुरस्कार “भारत रत्न” से सम्मनित किया गया डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन के शिक्षा क्षेत्र में महत्वपूर्ण योगदान के लिए उनके जन्मदिवस को हर वर्ष “अध्यापक दिवस” (5 सितम्बर) के रूप में मनाया जाता है।
* अंतराष्ट्रीय न्यायालय में प्रथम भारतीय न्यायाधीश: डॉ. नगेन्द्र सिंह – 1985 से 1988 तक “इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ़ जस्टिस” में अपनी सेवाएं देने वाले डॉ. नगेन्द्र सिंह को अंतराष्ट्रीय न्यायालय में प्रथम भारतीय न्यायाधीश होने का गौरव प्राप्त है।
* प्रथम उप-राष्ट्रपति: डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन – 13 मई 1952 को डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन भारत के प्रथम उपराष्ट्रपति के पद पर नियुक्त हुए दस वर्ष तक इस पद पर अपनी सेवाएं देने के बाद वर्ष 1967 में इस पद से निवृत हुए तथा भारत के द्वितीय राष्ट्रपति बने इनके बाद उपराष्ट्रपति का सम्मानीय पद जाकिर हुसैन ने संभाला।
* प्रथम महिला नार्मन बोरलॉग पुरस्कार विजेता: डॉ. अमृता पटेल – वर्ष 1943 में गुजरात में जन्मी डॉ. अमृता पटेल का चिकित्सा के क्षेत्र में अहम योगदान रहा है प्रथम महिला नार्मन बोरलॉग पुरस्कार विजेता के रूप में जानी जाने वाली अमृता पटेल को भारत सरकार द्वारा वर्ष 2002 में पदम विभूषण से भी सम्मानित किया जा चुका है।
* लेनिन शांति पुरस्कार से सम्मानित प्रथम महिला:अरूणा आसफ अली – वर्ष 1964 में लेनिन शांति पुरस्कार से सम्मानित अरूणा आसफ अली प्रथम महिला थी जिन्हें इस पुरस्कार से सम्मानित किया गया इस के अतिरिक्त वर्ष 1991 में इन्हें जवाहरलाल नेहरु अवार्ड फॉर इंटरनेशनल अंडरस्टैंडिंग पुरस्कार तथा वर्ष 1997 में मरणोपरांत इन्हें भारत रत्न से विभूषित किया गया था
* शतरंज में महिला ग्रैंड मास्टर विजेता: भाग्यश्री थिप्से – पदम श्री तथा अर्जुना अवार्ड से सम्मानित भाग्यश्री थिप्से वर्ष 1988 में शतरंज ग्रैंड मास्टर विजेता बनी थी इनका विवाह शतरंज खिलाड़ी प्रवीण थिप्से से हुआ शतरंज के अतिरिक्त इन्होने आई. डी. बी. आई. बैंक में भी कार्य किया है
* प्रथम अशोक चक्र प्राप्तकर्ता महिला: नीरजा भनोत (मरणोपरांत) – चंडीगढ़, पंजाब की जन्मी नीरजा भनोत (फ्लाइट अटेंडेंट) को 5 सितम्बर 1986 को उस समय मार दिया गया जब वे पकिस्तान के कराची में हाईजैक हुए जहाज के यात्रियों को आंतकवादियों से बचाने की कोशिश कर रही थी उनके इस साहस के लिए उन्हें मरणोपरांत “अशोक चक्र” से सम्मानित किया गया तथा इस सम्मान को प्राप्त करने वाली वे प्रथम महिला बनी।
* कम्प्यूटर की प्रथम पत्रिका – कम्प्यूटर एण्ड आटोमेशन है।
* इंटरनेट पर उपलब्ध होने वाली प्रथम भारतीय समाचार पत्र –  द हिन्दू और पत्रिका इण्डिया टुडे है।
* प्रथम कम्प्यूटरीकृत डाकघर  – नई दिल्ली का है।
* भारत का प्रथम प्रदूषण रहित कम्प्यूटरीकृत पेट्रोल पम्प –  मुम्बई में है।
* निजी क्षेत्र के अंतर्गत स्थापित होने वाला भारत का प्रथम कम्प्यूटर विश्वविद्यालय – राजीव गांधी कम्प्यूटर विश्वविद्यालय है।
* भारत में प्रथम कम्प्यूटर आरक्षण पद्धति  – नई दिल्ली में लागू की गई थी।

Advertisements

Author: kv1devlalilibrary

Kendirya Vidyalaya No.1, Devlali Near Devi Mandir, Rest Camp Road, Devlali Nashik, Maharashtra-422 401 E-mail: kv1devlibrary@gmail.com Web site: www.kv1devlalilibrary.wordpress.com

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.